फरीदाबाद गोल्फ क्लब की आक्सीजन फैक्ट्री को बर्बाद करने की साजिश ?

0
359

FARIDABAD NEWS (SANJAY KAPOOR) टूरिज्म विभाग के अधिकारी अपने कुछ चहेतों को फायदा पहुंचाने के लिए फरीदाबाद की आक्सीजन फैक्ट्री को बर्बाद करने पर तुले हैं। इस आक्सीजन फैक्ट्री से लाखों लोगों के स्वास्थ्य को फायदा होता है। लेकिन अब यह फैक्ट्री बर्बाद होने की कगार पर है। जी हां यहां बात हो रही है एनआईटी के गोल्फ क्लब की।

राज्य सरकार के टॅूरिज्म विभाग ने रोज गार्डन एनआईटी नंबर 3 के हरे भरे पेड़ों से अटे हुए मैदान को उजाडऩे का ठेका दे दिया है। इस मैदान को एक प्राईवेट कंपनी को मैरिज गार्डन बनाने के लिए एलॉट कर दिया गया है। हालांकि इस मैदान में पहले भी गोल्फ क्लब द्वारा शादी व पार्टी आयोजन के लिए बुक किया जाता था।

पंरतु वहां लगे हरे भरे पेड बिना कोई अड़चन पैदा किए इन आयोजनों की रौनक बढ़ाते थे। रात को होने वाले इन आयोजनों में गोल्फ क्लब में लगे हरे भरे व आक्सीजन पैदा करने वाले पेडों पर जब लाईटें लगती थी तो किसी भी आयोजन की भव्यता में चार चांद लग जाते थे। इस तरह से ये वृक्ष जहां आक्सीजन पैदा कर लाखों लोगों को स्वास्थ्य लाभ प्रदान कर रहे थे, वहीं शादी समारोह में भव्यता के लिए भी प्रयोग हो रहे थे।

लेकिन अब इस मैदान में एयर कंडीशन मैरिज गार्डन बनाने के लिए स्थाई ढांचे व भवन निर्माण के लिए चिनाई का काम चल रहा है। पर्यावरण सरंक्षण से जुड़े लोगों का कहना है कि गोल्फ क्लब में भव्यता प्रदान करने के लिए जिस तरह से लोहे के ढांचे व निर्माण का कार्य चल रहा है, उससे उन्हें संदेह है कि मैदान में खड़े वृक्षों को काटा भी जा सकता है? इससे शहर के लाखों लोगों के स्वास्थ्य को नुक्सान होने का अनुमान है।

बता दें कि इस मैदान को करीब सात साल के लिए किसी प्राईवेट कंपनी को ठेके पर दिया गया है। चर्चा है कि सरकार को गुमराह कर इस मैदान को लीज पर एलॉट करवाने के लिए बड़ा खेल खेला गया है।

इस भवन निर्माण के लिए मौके पर ना तो किसी प्रकार का सीएलयू करवाया गया है और ना ही नक्शा पास करवाया गया है। इससे सरकार के राजस्व को भी लाखों रुपए का चूना लगाया जा रहा है। ऊपर से शहर के लाखों लोगों के स्वास्थ्य से भी खिलवाड़ किया जा रहा है और यह काम चुनिंदा लोगों को लाभ पहुंचाने के लिए किया जा रहा है।

Googleadvertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here