हिंदी के बिना अधूरी है मां की लोरी व होली, दीवाली के रंग- प्रीता कौशिक

0
57
Private Advertisement

FARIDABAD NEWS (PULKIT KAPOOR ) नेहरू महाविद्यालय में प्राचार्या डॉ प्रीता कौशिक के निर्देशन में चल रहे त्रिदिवसीय हिंदी भाषा महोत्सव कार्यक्रम के अंतर्गत हिन्दी विभागाध्यक्ष डॉ प्रतिभा चौहान ने कविता पाठ का आयोजन किया जिस में मुख्य अतिथि जिले की महापौर सुमन बाला थी और विशेष अतिथि सहित्यकर ज्योति संग ,बाल कवि किशोर कुमार कौशल ,कवयित्री सुषमा गुप्ता ,लेखिका सुमन रानी रहे ।

महाविद्यालय के छात्रों ने कविता पाठ में  रचनात्मक प्रतिभा दिखाईं।प्राचार्या डॉ प्रीता कौशिक ने कहा कि हिंदी वो भाषा है जिस के बिना मां की लोरी से ले के,होली दीवाली के रंग अधूरे हैं ।ज्योति संग जी,सुषमा गुप्ता,किशोर कुमार जी ने विभिन्न कविताओं के माध्यम से हिंदी भाषा की अभिव्यक्ति को सशक्त , भावमय,सहज भाषा से सम्मानित किया।आज के हिंदी दिवस समारोह में  प्रोफेसर भूपेन्द्र कुमार ने अनेक कविताओं के द्वारा हिन्दी कवि स्वर्गीय प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई  को श्रद्धांजलि दी।

इस आयोजन में निर्णायक मंडल में , डॉ नीरकावल ,डॉ सरोज बाला , डॉ रिंकी बेडवाल ,अंशु नय्यर,जोरावर सिंह ने दायित्वपूर्ण भूमिका निभाई।हिंदी विभाग में श्रीमती मीनाक्षी,पूनम,निशा ,ललित रजनीश के समर्पण कार्य व उत्साह वर्धन से छात्र छात्राओं ने हिंदी दिवस के साथ हिंदी भाषी होने पर काव्य पाठ द्वारा गर्व किया।कार्यक्रम के सफल आयोजन में प्रो.अनीता खुंगर,प्रो,रुचिरा ,प्रो,सुनिधि,प्रो,विमल,प्रोविमल गौतम,प्रो.मुथरा सिंह ,प्रो गिरिराज प्रो.निशा की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here