यूपी में नॉन स्टॉप एनकाउंटर. बदमाशों के हौसले पस्त

0
287
LUCKNOW NEWS (CITYMAIL NEWS ) यूपी में नॉन स्टॉप एनकाउंटर ने बदमाशों के हौसले पस्त कर दिए हैं. पुलिस की मिशन क्लीन ने बदमाशों की रातों की नींद गायब हो गई. 24 घंटे के अंदर यूपी में एक नहीं 6 एनकाउंटर हुए हैं. नोएडा में हुए एनकाउंटर में 1 लाख का इनामी बदमाश मारा गया है. उसके पास से एके-47 बरामद हुआ है. गाजियाबाद में दो इनामी बदमाश गोली लगने से घायल हो गए.
गाजियाबाद के राजनगर में भी मुठभेड़ में एक बदमाश को गोली लगी है. ग्रेटर नोएडा और नोएडा में पुलिस मुठभेड़ में 1 लाख का इनामी बदमाश ढेर हो गया, तो 25 हजार का इनामी बदमाश घायल हो गया. मुजफ्फरनगर में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ में 10-10 हजार के दो इनामी बदमाशों को गोली लगी है.
अलीगढ़ में मुठभेड़ के बाद 6 गिरफ्तार किए गए हैं.
गाजियाबाद में एक ही रात में 2 जगह पुलिस और बदमाशों की मुठभेड़ हुई. एक इंस्पेक्टर और एक सिपाही सहित दो बदमाश अलग-अलग मुठभेड़ों में घायल हैं. सभी घायलों का अलग-अलग अस्पतालों में इलाज किया जा हैं. विजय नगर में पुलिस ने हिस्ट्री शीटर बदमाश को मुठभेड़ के बाद दबोच लिया. वहीं राजनगर एक्सटेंशन वाहन चेकिंग के दौरान मुठभेड़ हो गया.
ग्रेटर नोएडा के दादरी थाना क्षेत्र में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई है. मुठभेड़ में 25 हजार के इनामी बदमाश जितेंदर बुलंदशहर निवासी के पैर में गोली लगने से घायल हो गया, जबकि अंधेरे का फायदा उठाकर एक बदमाश मौके से भागने में सफल रहा. जितेंदर पर लूट, हत्या और चोरी के अभियोग में वांछित चल रहा था. उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है.
मुजफ्फरनगर में पुलिस की फायरिंग में दो शातिर बदमाशों घायल हुए हैं. वहीं एक दरोगा को भी गोली लगी है. तीनो घायलों को उपचार के लिए CHC में भर्ती कराया गया है. शातिर बदमाशों पर लूट, हत्या और डकैती के दर्जनों मामले दर्ज हैं. अलीगढ़ में थाना सिविल लाइन पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान आधा दर्जन से ज्यादा आपराधियों को दबोचा, जबकि 4 फरार हो गए.
11 महीने में करीब 1350 एनकाउंटर
उत्तर प्रदेश पुलिस के मिशन क्लीन से अपराधियों में भय का माहौल है. दहशत में आए क्रिमिनल के सामने दो ही रास्ते हैं या तो वो हथियार डाले या फिर पुलिस की गोली खाने को तैयार रहें. उत्तर प्रदेश पुलिस ने पिछले 11 महीने में करीब 1350 एनकाउंटर किए हैं. यानी हर महीने सौ से भी ज़्यादा एनकाउंटर. इस दौरान 3091 वॉन्टेड अपराधी गिरफ्तार किए गए.
5409 अपराधियों ने रद्द कराई जमानत
पुलिस ने 43 अपराधियों को मार गिराया गया. यूपी पुलिस का दावा है कि मरने वालों बदमाशों में 50 फीसदी इनामी अपराधी थे. जिन्हें पुलिस शिद्दत से तलाश रही थी. यूपी पुलिस के इन आंकड़ों ने अपराधियों में इस कदर खौफ भर दिया कि पुलिस एक्शन के डर से पिछले 10 महीने में 5409 अपराधियों ने बाकायदा अदालत से अपनी ज़मानत ही रद्द कराई है.
Googleadvertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here