गड़बड़ाए बडखल क्षेत्र के समीकरण, पूर्व विधायक चंदर भाटिया पर डोरे डाल रहे हैं मुख्यमंत्री ?

0
887

FARIDABAD NEWS (CITYMAIL NEWS) मुख्यमंत्री मनोहर लाल के फरीदाबाद दौरे को लेकर पूर्व विधायक चंदर भाटिया एक बार फिर से सुर्खियों में आ गए। मुख्यमंत्री सोमवार को बल्लभगढ़ के भाजपा विधायक मूलचंद शर्मा की बेटी की शादी में शरीक होने आए थे। इस अवसर पर वह लगे हाथ पूर्व विधायक चंदर भाटिया के बेटे के विवाह की शुभकामना देना चाहते थे। इसलिए विधायक मूलचंद के घर पहुंचते ही मुख्यमंत्री ने चंदर भाटिया के घर जाने की इच्छा जताई और कुछ नजदीकी लोगों को डयूटी दी कि वह इस बारे में चंदर भाटिया को अवगत करवाएं। मुख्यमंत्री की इच्छा को देखते हुए कुछ लोगों ने चंदर भाटिया से संपर्क साधा, तब उन्हें पता चला कि भाटिया परिवार अपने बेटे की शादी को लेकर दिल्ली रवाना हो गए। बकायदा मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पूर्व विधायक के बड़े भाई जगदीश भाटिया को फोन किया और शुभकामनाएं दी। जगदीश भाटिया ने चंदर भाटिया से सीएम की बात करवाई। मुख्यमंत्री ने कहा कि वह तो उनके बेटे की शादी में शरीक होने के लिए विशेष तौर पर फरीदाबाद आए थे। लेकिन उन्हें यह जानकारी बाद में मिली कि आप लोग दिल्ली में हो। मुख्यमंत्री ने चंदर भाटिया को बधाई देते हुए कहा कि अब वह चंडीगढ़ निकल रहे हैं, लेकिन जल्द ही उनके घर मुंह मीठा करने के लिए आएंगे।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल व पूर्व विधायक चंदर भाटिया के बीच बढ़ती मधुरता एक बार फिर से चर्चाओं में आ गई है। दरअसल मुख्यमंत्री भली भांति जानते हैं कि बडख़ल विधानसभा क्षेत्र में भाटिया बिरादरी की उपेक्षा करना भाजपा के लिए भारी पड़ सकता है और वो भी ऐसे समय में , जब खुद मुख्यमंत्री मनोहर लाल के बडख़ल विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लडऩे की अटकलें जोर पकड़े हुए हैं। यहां बता दें कि बडख़ल विधानसभा क्षेत्र में भाटिया बिरादरी किसी भी दल को चुनाव जिताने व हराने का मादा रखती है। भाटिया बिरादरी का रूझान आरंभ से ही भाजपा की ओर रहा है। इसलिए एनआईटी जोकि अब बडख़ल विधानसभा क्षेत्र कहलाया जाता है, वहां से भाटिया बिरादरी की अनदेखी करके चुनाव लडऩा मुमकिन नहीं है। माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री इस समीकरण से भली भांति अवगत हैं, यही वजह है कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल पूर्व विधायक चंदर भाटिया पर डोरे डालते दिखाई दे रहे हैं। इससे पहले दशहरा के अवसर पर भी मुख्यमंत्री ने विशेष तौर पर चंदर भाटिया को दशहरा उत्सव में बुलाकर भरपूर मान सम्मान दिया था।

Googleadvertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here