उद्योग मंत्री विपुल गोयल की पहल, राष्ट्रीयता का देंगे संदेश 

0
248
Private Advertisement
CHANDIGARH NEWS (CITYMAIL NEWS ) इस बार का गणतंत्र दिवस खास होने वाला है। राज्य में यह पहला मौका होगा जब गणतंत्र दिवस के मौके पर प्रदेश के धाॢमक, साामजिक एवं शैक्षणिक संस्थानों पर राष्ट्रीय ध्वज लहराता नज़र आएगा। राज्य के मंदिरों, मस्जिदों व गुरुद्वारों ही नहीं गिरजाघरों पर भी धर्मगुरुओं की मदद से तिरंगा फहराया जाएगा। इसकी शुरूआत कर रहे हैं राज्य के उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री विपुल गोयल। वे खुद बेशक कैबिनेट मंत्री होने के नाते सिरसा में ध्वजारोहण करेंगे लेकिन उन्होंने फरीदाबाद व गुरुग्राम सहित कई जिलों में इस आयोजन की तैयारियों का खाका तैयार कर लिया है। फिल्म पद्मावत को लेकर चल रहे विरोध के बीच विपुल गोयल ने कहा, सम्प्रदाय के नाम पर किसी भी तरह का दंगा और तोडफ़ोड़ सही नहीं है। विरोध के शांतिपूर्वक कई तरीके हैं। सार्वजनिक व निजी संपत्ति का नुकसान राष्ट्रीय नुकसान है। फरीदाबाद के टाउन पार्क में देश का सबसे बड़ा तिरंगा लगा चुके गोयल ने कहा, आतंकवाद, भाई-भतीजावाद, भ्रष्टाचार सहित समाज की तमाम बुराइयों को मिटाने के लिए आम लोगों के मन में राष्ट्रीयता का भाव होना जरूरी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने न्यू इंडिया की मुहिम शुरू की है और इसके लिए सभी का राष्ट्रीय होना जरूरी है। गोयल ने कहा, कोई भी धर्म देश से बड़ा नहीं हो सकता। सबसे बड़ा राष्ट्रधर्म है।
बृहस्पतिवार को चंडीगढ़ में मीडिया से बातचीत में गोयल ने कहा, हरियाणा ही नहीं बल्कि देशभर में लोगों को पंद्रह अगस्त और 26 जनवरी अपने-अपने घरों पर भी तिरंगे लगाने चाहिए। एक सवाल के जवाब में कैबिनेट मंत्री ने कहा, यह उनका खुद का कार्यक्रम है। इससे किसी पार्टी, व्यक्ति विशेष या संघ का कोई लेना-देना नहीं है। एक अन्य सवाल पर गोयल ने कहा, फरीदाबाद में सभी मंदिरों, मस्जिदों, गुरुद्वारों व गिरजाघरों के धर्मगुरु तिरंगा फहराने के लिए तैयार हैं।
कार्यक्रम शुरू किए जाने के पीछे के मकसद से जुड़े सवाल पर उन्होंने कहा, धर्म का प्रचार जहां से होता है अगर वहां तिरंगा लहराएगा तो लोगों में राष्ट्रीयता की भावना और भी बढ़ेगी। तिरंगा हमें देश के उन शहीदों और महान स्वतंत्रता सेनानियों की याद दिलाता है, जिन्होंने अपनी जान की कुर्बानी लगाते हुए देश को गुलामी की बेडिय़ों से आजाद करवाया। इस मौके पर पृथला से बसपा विधायक टेकचंद शर्मा भी उनके साथ मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here