मानव अधिकार आयोग के दखल से पंचकूला को मिलेगा साफ पानी

0
35
Private Advertisement

Chandigarh News (City mail News)   हर मानव को साफ पानी मिले यह मानव के मूल अधिकारों में से एक है और हर मानव के अधिकारों को पूरा करना ही सरकार का काम है | अगर सरकार उसको पूरा नहीं करती तो फिर उसके लिए ही मानवधिकार आयोग है |
हरियाणा मानवाधिकार आयोग के चैयरमैन जस्टिस सतीश कुमार मित्तल (पूर्व मुख्य न्यायधीश राजिस्थान हाई कोर्ट एवं पूर्व लोकायुक्त पंजाब ) एवं मानव अधिकार आयोग के दोनों सदस्य जस्टिस के.सी.पूरी और  दीप भाटिया ने स्वम् ही कौशल्य नदी में गिरने वाली गंदे नाले एवं गंदगी पर प्रकाशित मीडिया रिपोर्ट्स को गम्भीरता से लिया था ।

यह मामला नागरिकों के स्वास्थय से साथ-साथ कौशल्या डेम व पर्यावरण के लिये भी घातक था | इसीलिए मानव अधिकार आयोग ने स्वयं संज्ञान लेते हुए कौशल्या नदी के अंदर गिराए जाने वाले गंदे पानी के विषय में हरियाणा सरकार व पब्लिक हेल्थ को नोटिस जारी किया था |

मानव अधिकार आयोग के समक्ष हरियाणा के पब्लिक हेल्थ डिपार्टमेंट के अधिकारियों पेश हुए पब्लिक हेल्थ विभाग के अधिकारियों की ओर से यह बताया कि यदि हमें हॉर्टिकल्चर विभाग की जमीन मिल जाए तो हम वहां ट्रीटमेंट प्लांट लगाकर गंदे पानी को कौशल्या नदी में गिरने से रोक सकते हैं |

अपनी बात पर सफाई देते हुए पब्लिक हेल्थ डिपार्टमेंट ने गंदे पानी को साफ करने के लिये ट्रीटमेंट प्लांट लगानी के लिये जमीन की मांग की गई थी।इस पर मानव अधिकार आयोग ने हॉर्टिकल्चर डिपार्टमेंट को नोटिस करके स्थिति के बारे में पूछा | हरियाणा मानव अधिकार आयोग के हस्तक्षेप के बाद हॉर्टिकल्चर डिपार्टमेंट जमीन देने को राजी हुआ और एडीशनल चीफ सेक्टरी हॉर्टिकल्चर के निर्देश के बाद  जमीन पब्लिक हेल्थ डिपार्टमेंट को सुपुर्द कर दी गई

मानवाधिकार आयोग के निर्देशानुसार पब्लिक हेल्थ डिपार्टमेंट ने उक्त जमीन पर ट्रीटमेंट प्लांट लगाने का टेंडर भी जारी कर दिया ! यह जानकारी  आयोग के समक्ष पेश हुए दोनों डिपार्टमेंट के अधिकारियों ने दी व उन्होंने ने अायोग को बताया कि एडिशनल चीफ सेक्टरी हॉर्टिकल्चर ने आवश्यक जमीन पब्लिक हेल्थ को ट्रांसफर करने की अनुमति प्रदान कर दी है और अब पब्लिक हेल्थ अपना काम शुरू कर सकता है ।

पब्लिक हेल्थ ने 2 महीने के अंदर इस काम को पूरा करने का समय निश्चित किया है | मानव अधिकार आयोग के दखल और इस सारी कार्रवाई के बाद आशा है कि जल्दी पंचकूला के लोगों को जल्द ही स्वच्छ पानी पीने को मिल पाएगा क्योंकि पंचकूला की अधिकांश पेयजलापूर्ति इसी कौशल्य डैम पर निर्भर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here