कांग्रेस ने ललित नागर से टिकट छीनकर अवतार भड़ाना को बनाया अपना प्रत्याशी

0
1068

New Delhi News (City mail News) कांग्रेस हाईकमान द्वारा फरीदाबाद से विधायक ललित नागर को लोकसभा टिकट देने का अपना फैसला बदल दिया है फिलहाल कांग्रेस ने इस सीट से भाजपा छोड़कर अपनी पार्टी में शामिल हुए पूर्व सांसद अवतार बढ़ाना को टिकट थमा दिया है ! अभी कुछ देर पहले ही देर शाम कांग्रेस महासचिव मुकुल वासनिक ने अवतार बढ़ाना को फरीदाबाद से अपना प्रत्याशी बनाने की घोषणा की है ! यहां बता दें कि ललित नागर को कांग्रेस प्रत्याशी बनाए जाने का पार्टी के अनेक नेता जबरदस्त तरीके से विरोध कर रहे थे ! सबसे पहले विरोध की आवाज पूर्व मंत्री एवं हरियाणा समन्वय कमेटी के सदस्य महेंद्र प्रताप के बेटे विजय प्रताप ने जोर शोर से उठाई थी ! विजय प्रताप ने ललित नागर का साथ देने से ना केवल इंकार कर दिया था , बल्कि मीडिया के प्लेटफार्म पर जाकर कांग्रेस हाईकमान द्वारा उन्हें टिकट देने का विरोध भी किया था ! विजय प्रताप के विरोध से फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र में हड़कंप मचा हुआ था ! यही नहीं बल्कि उनके पिता महेंद्र प्रताप भी टिकट वितरण से खासे स नाराज थे ! पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा तथा कांग्रेस महासचिव व हरियाणा प्रभारी गुलाम नबी आजाद महेंद्र प्रताप से चुनाव लड़ने का आग्रह कर रहे थे ! हालांकि पहले वह इसके लिए तैयार नहीं थे , परंतु जब वह तैयार हुए तो टिकट में उनका नाम दूर-दूर तक नहीं था ! इसी तरह से पलवल के कांग्रेस विधायक करण दलाल और पूर्व सांसद अवतार सिंह भड़ाना को भी टिकट देने का पक्का आश्वासन दिया जा रहा था ! परंतु ऐन वक्त पर उपरोक्त तीनों में से किसी को भी टिकट नहीं दी गई तथा ललित नागर को प्रत्याशी बना कर उतार दिया गया ! कांग्रेस हाईकमान के इस निर्णय पर महेंद्र प्रताप , विजय प्रताप , करण दलाल और अवतार बढ़ाना खासे नाराज थे ! अवतार भड़ाना ने तो दिल्ली में डेरा डालकर कांग्रेस को ललित नागर की टिकट बदलने के लिए मजबूर कर दिया ! इसी तरह से करण दलाल ने रविवार को अपने समर्थकों की महापंचायत बुलाकर शक्ति प्रदर्शन के माध्यम से पार्टी नेताओं को चेतावनी दे डाली ! इन सब के विरोध के चलते ही रविवार देर शाम ललित नागर की टिकट काटकर अवतार बढ़ाना को कांग्रेस प्रत्याशी बनाकर उतार दिया गया है ! कांग्रेस के इस निर्णय से जहां अवतार बढ़ाना समर्थकों में खुशी की लहर है , वहीं ललित नागर के परिवार में मातम का माहौल बन गया है ! वहीं दूसरी ओर यह भी तय है कि इस प्रकार से टिकट वितरण को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ता तथा पार्टी नेताओं में जोरदार तरीके से गुटबाजी भी देखने को मिलेगी , जिसका नतीजा कांग्रेस को भुगतना पड़ सकता है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here