वाड्रा के राईट हैंड पूर्व विधायक के घर व गांव में इंकम टैक्स की छापेमारी, कार्रवाई से नाराज हुए समर्थक - The Citymail Hindi

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

Wednesday, March 4, 2020

वाड्रा के राईट हैंड पूर्व विधायक के घर व गांव में इंकम टैक्स की छापेमारी, कार्रवाई से नाराज हुए समर्थक


Faridabad News (citymail news ) तिगांव विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक ललित नागर ने  उनके व उनके समर्थकों के यहां हुई आयकर विभाग की छापेमारी पर कड़ी आपत्ति व्यक्त करते हुए कहा कि भाजपा सरकार उनकी बढ़ती लोकप्रियता से पूरी तरह से घबराई हुई है। यही कारण है कि स्वयं उनके व उनके समर्थकों के यहां किसी न किसी प्रकार से छापेमारी करवाई जा रही है। देर सायं तक आयकर विभाग की चल रही कार्यवाही के दौरान ललित नागर ने कहा कि अब तक तीन बार उनके निवास, कार्यालयों व उनके समर्थकों के निवासों पर आयकर और ईडी विभाग छापेमारी कर चुका है, लेकिन इस छापेमारी के दौरान उन्हें अवैध रूप से एक रुपया तक भी नहीं मिला है। इससे साफ जाहिर है कि केवल मात्र कांग्रेसी नेताओं की आवाज को दबाने व डराने के लिए इस तरह की औछी राजनीति का इस्तेमाल किया जा रहा है, लेकिन वह जमीन से जुड़े हुए नेता है और हमेशा कानून के दायरे में रहकर कार्य करते है इसलिए न झुकेंगे और दबेंगे और सरकार की बेकादियों के खिलाफ भविष्य में भी पुरजोर तरीके से आवाज उठाते रहेंगे।


उल्लेखनीय है कि तिगांव फरीदाबाद के पूर्व कांग्रेस विधायक ललित नागर को राजनीति में पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड गुट से माना जाता है,जबकि उनके भाई महेश नागर प्रॉपटी का काम करते हैं। महेश व ललित नागर को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद राबर्ड वाड्रा का खासमखास माना जाता है। चर्चा तो यहां तक भी है कि ललित नागर को दो बार तिगांव से कांग्रेस की टिकट वाड्रा की सिफारिश पर ही मिली है। नागर व उनके भाई महेश का वाड्रा से कनेक्शन जोड़ते हुए पहले भी उनके सैक्टर 17 स्थित निवास, गांव बुआपुर व उनके समर्थकों के घर छापेमारी की जा चुकी है। बुधवार को एक बार फिर से इंकम टैक्स की टीम पूर्व विधायक व उनके समर्थकों के घर छापेमारी करने पहुंची। देर शाम तक छापे की कार्रवाई जारी रही। इस कार्रवाई से पूर्व विधायक व उनके समर्थकों में भाजपा सरकार के प्रति गहरी नाराजगी हैै


 


 


 


No comments:

Post a Comment

Ads