फरीदाबाद के सैक्टर 56 में यूं ही नही जल गई सैंकड़ों झुगगी, ये है किसी माफिया का खेल - The Citymail Hindi

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

Wednesday, May 13, 2020

फरीदाबाद के सैक्टर 56 में यूं ही नही जल गई सैंकड़ों झुगगी, ये है किसी माफिया का खेल

Faridabad News (citymail news ) फरीदाबाद के सैक्टर 56 में अचानक झुगिगयों में आग लगने के पीछे किसी स्थानीय माफिया के होने का संदेह व्यक्त किया जा रहा है। कहा जा रहा है कि जिस जगह पर कबाड़ा इकठ्ठा कर रोजी रोटी कमाने वालों ने अपने कच्चे घर बना रखे थे, वह सरकारी जमीन थी। मगर इस जमीन पर रहने के लिए इन गरीबों को वहां के एक स्थानीय दबंग व माफिया को हर महीने कई हजार रुपए चुकाने पड़ते थे। झुगिगयों में आग लगने के बाद उन लोगों के मुंंह से दबी जुबान में माफिया की करतूतें उजागर हो रही हैं। इन लोगों ने कहा कि कोरोना की वजह से वह कुछ समय से उक्त माफिया को सरकारी जमीन पर रहने का किराया नहीं दे पा रहे हैं। जिस वजह से उन्हें लगातार धमकियां मिल रही थी। पंरतु वह भी मजबूर थे, उनके पास पेट भरने के लिए रोटी नहीं है तो वह किराया कैसे दें। लेकिन उसे इससे कोई लेना देना नहीं था। इससे खुंदक खाकर ही उक्त माफिया ने उनकी झुगगी व सारा सामान राख कर दिया। ऐसा उनका संदेह है। हैरत की बात है कि सरकारी जमीन पर कूडा इकठ्ठा कर किसी तरह से गुजर बसर करने वालों से किराया वसूलना अपने आप में कू्ररता की निशानी है। इससे भी बड़ी बात तो यह है कि किराया ना चुकाने पर इन हालातों में उनके छोटे छोटे झोंपड़ों को आग लगा दी गई। हालांकि यह हादसा इससे भी बड़ा हो सकता था, सैंकड़ों लोगों की जान जा सकती थी। सरकार, प्रशासन व पुलिस के लिए मुसीबत खड़ी हो सकती थी। बावजूद आग लगने के बाद भी पुलिस का इस ओर कोई ध्यान नहीं है। प्रशासन को इस मामले में जांच कर आरोपी को जेल के भीतर डाला जाना चाहिए। 

No comments:

Post a Comment

Ads