पलवल के भगवत दयाल की मौत को लेकर स्वास्थ्य विभाग ने नहीं दी रिपोर्ट - The Citymail Hindi

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Monday, May 25, 2020

पलवल के भगवत दयाल की मौत को लेकर स्वास्थ्य विभाग ने नहीं दी रिपोर्ट

Faridabad News(citymail news )
  फरीदाबाद जिला अस्पताल द्वारा गठित नेग्लीजेंसी जांच बोर्ड में चल रही QRG अस्पताल सेक्टर -16 के डॉक्टर प्रबल रॉय  उनकी टीम के द्वारा पथरी के ईलाज में लापरवाही से मरीज (भगवत दयालकी मौत मामले में लगभग 6 महीने से ज्यादा समय बीतने के बाद भी अभी तक कोई फाईनल रिर्पोट  मिलने के कारण परिजनों में रोष हैं। बीते 2 महीने पहले पीड़ित परिजन सिविल सर्जन फरीदाबाद से मिले थे ,और जांच प्रक्रिया में तेजी लाकर जल्द से जल्द रिर्पोट देने की गुहार लगाई थी लेकिन 2 महीने से ज्यादा समय बितने के बाद भी जिला नेग्लीजेंसी जांच बोर्ड इस मामले पर ढील देता नज़र  रहा है।
भगवत दयाल (दिवंगतके बड़े भाई भरतलाल शर्मा ने बताया कि लगभग 6 महीने से ज्यादा समय बीतने के बाद भी अभी तक कोई फाईनल रिपोर्ट नैग्लीजेंस जांच बोर्ड के द्वारा नहीं दी गई है  उन्होंने कहा की जनवरी महीने की आखरी मीटिंग के बाद अभी तक नैग्लीजेंस जांच बोर्ड की तरफ से कोई जवाब नहीं मिला है  उन्हें यह कह कर टाल दिया जाता है की एक्सपर्ट की ओपेनियन के लिए आपकी फाइल रोहतक पीजीआई भेज दी गयी है। जांच कमेटी  के द्वारा इस तरह के रवैये से वह नाराज है गौरतलब है कि 1 नंबर 2019 को भगवत दयाल, श्याम नगर, पलवल निवासी अपनी पथरी के ऑपरेशन के लिए सेक्टर-16 क्यूआरजी अस्पताल में गये थे जिनका डॉक्टर प्रबल रॉय  उनकी टीम ने ऑपरेशन किया था ऑपरेशन में डॉक्टरों ने गालब्लेडर तो निकाल दिय पर पथरी नली में फंस जाने की बात कही बाद में मरीज की तबीयत खराब हो जाने के बाद डॉक्टरो ने भगवत दयाल की ओपन सर्जरी कर डाली जिसके बाद मरीज वेंटिलेटर पर चला गया। अस्पताल प्रबंधन और डॉक्टर से पूछने के बाद भी मरीज के विषय में नहीं बताया गया। 5 नवंबर शाम को डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया गया था मामले में फरीदाबाद जिला अस्पताल द्वारा गठित नेग्लीजेंसी जांच बोर्ड में क्यूआरजी अस्पताल के डॉक्टर प्रबल रॉय  उनकी टीम पर फिलहाल अभी जांच चल रही है। वहीं दूसरी ओर अस्पताल प्रशासन ने अपने ऊपर लगाए गए सभी आरोपों को गलत बताया है। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages