देंखे कैसे घर पहुंचने के लिए लुट रहे हैं बेहाल व भूखे पेट मजदूर - The Citymail Hindi

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

Thursday, May 14, 2020

देंखे कैसे घर पहुंचने के लिए लुट रहे हैं बेहाल व भूखे पेट मजदूर

Faridabad News (citymail news ) फरीदाबाद के गरीब मजदूरों के लिए ये लॉकडाऊन बड़ी बर्बादी लेकर आया है। एक तरफ उनके लिए भूखों मरने जैसी स्थिति सामने है तो दूसरी तरफ इससे बचने के लिए अपने घर पहुंचने की जल्दी। चाहे फिर वह हजारों किलोमीटर का फासला पैदल ही तय करें या फिर ट्रक व टैंपों वालों की मनमानी का शिकार बनें। उन्हें हर हाल में ही लुटना व पिटना पट रहा है। हाल फिलहाल उनकी इसी मजबूरी का फायदा उठाकर फरीदाबाद में टैंपों व ट्रक माफिया पैदा हो गए हैं। जोकि मजदूरों को घर पहुंचाने का लालच देकर उनसे मनमाना रुपया ऐंठ रहे हैं। सुबह से शाम तक टैंपो व ट्रक माफिया का गिरोह सडक़ों पर घूमता है। जैसे ही उन्हें किसी जगह पर मजदूर व श्रमिकों के इकठ्ठा होने का पता चलता है तो वह वहां पहुंचकर उन्हें उनके गांव पहुंचाने का कहकर उनसे मनमाना किराया वसूल रहे हैं। हालांकि प्रशासन व पुलिस को भी इसकी पूरी जानकारी है, मगर वह आंखें बंद किए बैठे हैं। हो सकता है कि उनकी मिलीभगत से ही यह खेल खेला जा रहा हो। हालांकि सरकार के स्तर पर भी प्रवासियों को उनके घर पहुंचाने के लिए के लिए तमाम प्रबंध किए जा रहे हैं, मगर वो नाकाफी साबित हो रहे हैं, तभी तो मजदूर वर्ग का इस औद्योगिक नगरी से तेजी से पलायन हो रहा है। लॉक डाऊन के चलते तमाम उद्योग व काम धंधे बंद हैं ।  इससे मजदूरों में बेरोजगारी पनप चुकी है और वह खाने के लिए मोहताज हो गए हैं। देने के लिए उनके पास किराया भी नहीं है। ऐसे में उन्हें लग रहा है कि वह अपने घर पहुंच जाएंगे तो कम से कम दो वक्त की रोटी खा लेंगे और किराया भी नहीं देना होगा। इसलिए वह लुट पिट कर भी अपने घर पहुंचने के लिए दरबदर ठोंकरे खा रहे हैं। 

No comments:

Post a Comment

Ads