फरीदाबाद की डबुआ सब्जी मंडी बंद होगी या नहीं ? पढ़ें पूरी रोचक खबर - The Citymail Hindi

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

Wednesday, May 13, 2020

फरीदाबाद की डबुआ सब्जी मंडी बंद होगी या नहीं ? पढ़ें पूरी रोचक खबर

Faridabad News (citymail news ) फरीदाबाद की सबसे बड़ी  डबुआ सब्जी मंडी को बंद करवाने को लेकर प्रशासन व यूनियन में खींचातान शुरू हो गई है। डबुआ सब्जी मंडी यूनियन का कहना है कि वह शनिवार से मंडी को बंद करने का फरमान जारी कर चुके हैं, जबकि मंडी प्रशासन का कहना है कि ऐसा कुछ नहीं है। मंडी बंद करवाने को लेकर प्रशासन की ओर से कोई निर्देश नहीं हैं। बता दें कि डबुआ सब्जी मंडी यूनियन ने हाल ही में कोरोना के संकट को लेकर मंडी को शनिवार से बंद करने की घोषणा की है। इस बारे में मंडी के प्रधान रणधीर सिंह ने  सिटीमेल से बात करते हुए साफ कहा कि वह मंडी सचिव को ज्ञापन दे चुके हैं। मंडी बंद करने का ऐलान कर दिया गया है। सब्जी विक्रेताओं को स्पष्ट निर्देश हैं कि शनिवार से मंडी में सब्जी व फ्रूट नहीं आएगा। प्रधान के अनुसार सब कुछ साफ है कि वह मंडी को बंद करने का निर्णय ले चुके हैं। उनका कहना है कि सब्जी मंडी में कोरोना पॉजीटिव की संख्या बढ़ रही है। हर रोज मंडी से कोई ना कोई केस सामने आ रहा है। बाहर से आने वालों की संख्या में कोई कमी नहीं है। इसलिए वह कोई खतरा मोल नहीं लेना चाहते। उन्होंने सब्जी पर दो प्रतिशत शुल्क लगाने का भी हवाला दिया और इस पर आपत्ति जताई।  प्रधान के अनुसार साफ निर्णय है कि मंडी शनिवार से बंद की जा रही है। यह कब तक बंद रहेगी, इस पर उन्होंने कहा कि इस पर फैसला बाद में होगा। 
वहीं दूसरी ओर मार्केट कमेटी डबुआ सब्जी मंडी के सचिव विपिन यादव का कहना है कि प्रशासन की ओर से ऐसा कोई फैसला नहीं किया गया है। यूनियन ने उनसे कहा है कि मंडी में सेनीटाईज व कोरोना टेस्ट करवाने की व्यवस्था होनी चाहिए। इस मांग को उन्होंने उपायुक्त के पास पहुंचा दिया है। बस इतनी से उनकी मांग है , जिसे प्रशासन को मानने में कोई दिक्कत नहीं है। मंडी में जब सेनीटाईज व टेस्ट की प्रक्रिया आंरभ होगी, तभी यह मंडी बंद रहेगी। जैसे ही यह कार्य पूरा हो जाएगा, तो मंडी को खोल दिया जाएगा। यूनियन द्वारा बंद करने के निर्णय पर कहा कि कोई बंद नहीं है और ना  ही प्रशासन की ओर से शनिवार से मंडी को बंद करने का कोई फैसला लिया गया है। यूनियन ने उनसे भी ऐसा कुछ नहीं कहा है। जबकि मंडी बंद करने को लेकर प्रशासन व यूनियन में अंदर ही अंदर जोरदार तरीके से खींचातान चल रही है। बता दें कि मंडी के कुछ दुकानदार भी बंद के पक्ष में नहीं हैं। उनका मानना है कि इससे उनका काम तो प्रभावित होगा ही, साथ ही सब्जी व फू्रट के दाम भी बढ़ जाएंगे। लेकिन देखना अब यह है कि मंडी बंद को लेकर आमने सामने आए प्रशासन व यूनियन के बीच चल रहे विवाद का क्या परिणाम निकलकर आता है। 

No comments:

Post a Comment

Ads