फरीदाबाद में पानी से दुखी लोग सडक़ों पर उतरे, किया जोरदार प्रदर्शन - The Citymail Hindi

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Thursday, May 28, 2020

फरीदाबाद में पानी से दुखी लोग सडक़ों पर उतरे, किया जोरदार प्रदर्शन


फरीदाबाद में कई जगह पानी का संकट लोगों को विरोध प्रदर्शन करने के  लिए मजबूर करने लगा है। इसके अंतर्गत ही वीरवार की सुबह 6 बजे लोग उस समय सडक़ों पर उतर आए, जब वह पानी के संकट से पूरी तरह से दुखी हो गए। यह मामला है वार्ड नंबर 3 के अंतर्गत आने वाली संजय कालोनी का। कालोनी के लोग पिछले काफी समय से पानी के संकट से जूझ रहे हैं। तमाम शिकायत करने के बाद भी कोई उनकी सुनवाई करने के लिए तैयार नहीं हुआ। इसके चलते वह वीरवार की सुबह गौंच्छी रोड पर आ गए और वहां प्रदर्शन कर पानी की मांग करने लगे। बच्चे, महिला व उम्रदराज लोग इकठ्ठे हो गए और सरकार व प्रशासन से पानी की मांग करते हुए सडक़ों पर बैठ गए। इससे पहले सैक्टर 55 के लोग भी पानी संकट को लेकर सडक़ों पर आकर प्रदर्शन कर चुके हैं। लेकिन सरकार ने उन्हें पानी देने की बजाए उन सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दिया । सैक्टर 55 के लोगों के साथ तो विधायक नीरज शर्मा भी धरने पर बैठे थे, मगर उन्हें छोडक़र बाकि लोगों पर मुकदमा दर्ज कर दिया गया। इस घटना को बीते कुछ ही दिन हुए हैं कि वीरवार को एक बार फिर से सैक्टर 23 के लोग सडक़ों पर उतर आए। सैक्टर 23 के साथ साथ सैक्टर 55, पर्वतीया कालोनी, जवाहर नगर, जीवन नगर, डबुआ कालोनी, नंगला एंकलेव, गौंच्छी व जवाहर कालोनी के साथ लगते ऐसे तमाम एरिया हैं, जहां पानी की सप्लाई पहुंच ही नहीं पाती। कई एरिया में पानी आता भी है तो वहां भी सप्लाई में कई दिक्कतें होती हैं। यही वजह है कि वीरवार को लोगों को एक बार फिर से सडक़ पर उतरकर प्रशासन को जगाने के लिए मजबूर होना पड़ा है। बता दें कि इन इलाकों में या तो पानी आता नहीं और आता भी है तो खारा या फिर सीवर से मिला हुआ पानी नलों में पहुंचता है। इस व्यवस्था से दुखी लोग टेंकर माफियाओं के रहम पर हैं। उनसे पानी खरीदकर पीने के लिए वह मजबूर हैं।  हालांकि इलाके के विधायक नीरज शर्मा लगातार पानी की समस्या को लेकर डीसी व मुख्यमंत्री को चिठ्ठी लिख रहे हैं। इस संकट को लेकर वह लगातार नगर निगम कमिश्नर के संपर्क में भी हैं। मगर इतने प्रयासों के बाद भी उनकी समस्या जस की तस है और लोग पानी खरीदकर पी रहे हैं। इससे नगर निगम व सरकार पर कोई भी असर दिखाई नहीं देता। पानी भरने के चक्कर में लोग रात को सो नहीं पाते, महिलाएं सुबह तडक़े उठकर पानी की ओर देखना शुरू कर देती हैं। इस दुखदायी स्थिति ने लोगों का जीना हराम कर दिया है, इसलिए वीरवार की सुबह सैंकड़ों लोग इकठ्ठे हो गए और सडक़ों पर उतर आए। खबर लिखे जाने तक पुलिस भी वहां पहुंच चुकी थी।  

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages