लॉकडाऊन को सफल बनाने में हर मोर्चे पर डटा रहा फरीदाबाद का बिजली निगम - The Citymail Hindi

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Monday, May 25, 2020

लॉकडाऊन को सफल बनाने में हर मोर्चे पर डटा रहा फरीदाबाद का बिजली निगम

Faridabad News (citymail news ) एचएसईबी वर्कर यूनियन की यूनिट ओल्ड फरीदाबाद के प्रधान लेखराज चौधरी ने कोविड-19 में कार्यरत बिजली कर्मचारियों के कामों की सराहना करते हुए बताया कि देश मे कोरोना वायरस की जंग से लड़ने वालों में बहुत से वर्ग के लोगों ने हीरो की भूमिका निभाते हुए नज़र आये । जिसमे कई लोग पर्दे पर आये और कई लोगों का कार्य तो पर्दे के पीछे ही रहा । लेकिन कोरोना के खिलाफ जंग की इस लड़ाई में बिजली कर्मियों का योगदान भी किसी अन्य योद्धाओं से कम नही रहा है । हालांकि इन कर्मचारियों के योगदान को सराहा नही गया और वे पर्दे के पीछे से ही सेवा कार्य में जुटे रहे । दरअसल कोरोना महामारी के संकट को देखते हुए देश भर में 25 मार्च 2020 से लॉक डाउन घोषित किया हुआ है । देशवासियों को अबतक 60-62 दिनों तक घर पर ही रहना पड़ा है । अभी फिलहाल लॉक डाउन-4 चल रहा है, जिसकी अवधि 30 मई 2020 तक है । मगर लॉक डाउन की सफलता का श्रेय बिजली विभाग के जाँबाज कर्मचारियों को देना चाहिये । जिनकी बदौलत आमजन गर्मी के भीषण प्रकोप में इतने लम्बे अरसे तक अपने घरों में ही लॉक रहे । देश मे कोरोना के भय से हरपल आशंका बनी रहती थी । लेकिन बिजली कर्मचारी कोरोना से बेख़ौफ़ अपने जोखिम भरे काम पर डटे रहे । उन्होंने निर्बाध बिजली आपूर्ति सुनिश्चित की, ताकि लोग घरों में बने रहें । यदि बिजली निगम के कर्मियों की ओर से किसी योद्धा की भाँती कर्मियों ने समय पर अपनी ड्यूटी ना निभाई होती । तब लोग लॉक डाउन तोड़कर घरों से बाहर निकल पड़ते । बिजली विभाग के कर्मचारियों ने दिनरात, धूप छाँव की परवाह किये बगैर बखूबी से अपना काम किया । हालांकि इस अवधि के दौरान कई बार तेज आँधी तूफान भी आये । जिससे पोल टूटे, ट्रांसफार्मर खराब हुए, बिजली की लाइनें ध्वस्त होकर ठप्प हो गईं, मगर कर्मचारियों ने अपने हौंसलों के बलबूते कम से कम समय में बिजली आपूर्ति को बहाल करने का काम कर दिखाया । हकीकत तो यह है कि इस लॉक डाउन की अवधि में लोगों को न्यूनतम बिजली कटों का सामना करना पड़ा । सामान्य दिनों में भले ही लोगों को घोषित कटों का सामना करना पड़ता हो, मगर लॉक डाउन की इस स्तिथि में एक पल के लिये भी बिजली गुल नही हुई । बिजली कर्मचारियों ने पूरी तन्मयता से अपने फर्ज की अदायगी की है । समाज के कुछेक तबके ने उनकी सेवाओं को सराहा हो, मगर जिसके वे हकदार हैं, वैसा उन्हें सम्मान नही मिला और वे पर्दे के पीछे ही रहे । जबकि नम्बरी लोग आगे रहे । इस हकीकत से यह साबित रहा कि बिजली वालों ने अपनी सेवाओं से आमजन के दिलों को भी जीत लिया है । इसीलिये एक सलाम अवश्य ही इन योद्धाओं के लिये बनता है । कर्तव्य के लिये अपनी जान की बाजी लगाने वाले बिजली कर्मचारी भी किसी फ्रन्ट वारियर्स से कम नही हैं । उन्हें भी पूरा सम्मान दिए जाने की जरूरत है ।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages