गुरूग्राम व फरीदाबाद में हुआ कोरोना विस्फोट, इंस्पेक्टर सहित 10 मौतें - The Citymail Hindi

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Thursday, June 11, 2020

गुरूग्राम व फरीदाबाद में हुआ कोरोना विस्फोट, इंस्पेक्टर सहित 10 मौतें


फरीदाबाद और गुरूग्राम में अब कोरोना बारूद का रूप ले चुका है। विस्फोट होना शुरू हो गए हैं। वीरवार को इन दोनों जिलों में कोरोना से कई मौतें हुई हैं। राज्य में सबसे अधिक कोरोना पॉजीटिव व मौतें इन दोनों जिलोंं में ही हो रही हैं। गुरूग्राम में वीरवार को एक पुलिस इंस्पेक्टर की मौत हो गई। उन्हें कोरोना के चलते 7 जून को पॉजीटिव पाया गया था, जिसके बाद उन्हें होम आईसोलेशन पर रखा गया था। तबियत अधिक  खराब होने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया था, मगर सक्रंमण इतना अधिक था कि वह बच नहीं पाए। वीरवार की सुबह एक निजी अस्पताल में उन्होंने दम तोड़ दिया। दुख की बात तो यह है कि वह एक महीने बाद ही वह पुलिस की नौकरी से रिटायर होने वाले थे। उनके अलावा गुरूगाम में पांच मौतें और हुई हैं। यह सभी मौतें पिछले चौबीस घंटे के भीतर हुई हैं। गुरूग्राम में मौतों का आंकड़ा बढक़र 19 पर पहुंच गया है। वहीं एक दिन में गुरूग्राम में 191 नए पॉजीटिव केस सामने आए हैं। गुरूग्राम में अब कोरोना पॉजीटिव की संख्या बढक़र 2737 हो गई है। 859 मरीज डिस्चार्ज होने के बाद एक्टिव मरीजों की संख्या 1859 है, जोकि काफी अधिक है। राज्यभर में गुरूग्राम पहले तो फरीदाबाद दूसरे नंबर पर आ गया है। फरीदाबाद में भी दो दिनों के  भीतर सात कोरोना पॉजीटिव की मौत हुई हैं। वहां कोरोना पॉजीटिव का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। फरीदाबाद में वीरवार को यह आंकड़ा 55 नए मरीजों के साथ 1055 पर पहुंच गया है। यह बेहद ही चिंताजनक खबर है, मगर इस पर लगाम नहीं लग पा रही है। सरकार चाहे लाख दावे करे, मगर उनकी हकीकत दोनों जिलों में हर रोज हो रही मौतें व कोरोना के बेहताशा बढ़ते केस हैं। सरकार कितनी चिंता में है, इन बढ़ते केसों से जगजाहिर हो रहा है। फरीदाबाद में तो कोरोना टेस्ट करने वाले कर्मचारी भी सक्रंमित हो गए हैं, जिसके बाद टेस्टिंग लैब को ही बंद करना पड़ा है, वहीं नागरिक अस्पताल में टेस्ट किट समाप्त हो गई हैं, जिसके बाद वह लैब भी अस्थाई तौर पर बंद हो गई है। फरीदाबाद में दो टेस्टिंग लैब हैं, मगर काम करने की बजाए दोनों ही ठप्प है। असली दिक्कत तो यह है कि फरीदाबाद में कोरोना टेस्ट करवाने वाले लोग बेहद परेशान हैं। सभी इधर से उधर धक्के खा रहे हैं। इन दोनों जिलों को लेकर स्थिति आंरभ से ही संवेदनशील रही है, मगर प्रशासन व सरकार ने क्या कदम उठाए, वह दोनों जिलों के बढ़ते केस और मौतों को देखकर पता चलता है। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages