फरीदाबाद में कोरोना से एक की मौत ,45 नए मरीजों के साथ आंकड़ा 570 - The Citymail Hindi

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Thursday, June 4, 2020

फरीदाबाद में कोरोना से एक की मौत ,45 नए मरीजों के साथ आंकड़ा 570


फरीदाबाद में वीरवार को 45 नए कोरोना केसों के साथ एक पॉजीटिव की मृत्यु होने का भी समाचार है। स्वास्थ्य विभाग ने 45 नए केसों के साथ 570 लोगों के पॉजीटिव होने की जानकारी दी है। इसके अलावा एक व्यक्ति की मौत होने की भी जानकारी सांझा की है। 65 वर्षीय इस व्यक्ति की कोरोना व अन्य बीमारियों के चलते बुधवार की रात को मृत्यु हो गई थी। मृतक नगर निगम फरीदाबाद का कर्मचारी था, जोकि फिलहाल रिटायर हो चुका था। एनएच -4 का निवासी था मृतक। इस व्यक्ति सहित जिले में अब तक कुल 11 लोगों की मौत हो चुकी है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार जिन लोगों की अब तक मृत्यु हुई है, उन्हें अन्य गंभीर बीमारियां भी थीं। इस बीमारी की अवस्था में उनकी बीमारी रोधक शक्ति समाप्त हो गई जिस कारण वह कोरोना के अटैक से बच नहीं पाए। इनके अलावा जिले में वीरवार को 45 नए केसों के साथ 570 पर आंकड़ा पहुंच गया है। जबकि बुधवार को यह आंकड़ा 525 पर था, जोकि बढक़र 570 हो गया है। हर रोज यह आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। वहीं स्वास्थ्य विभाग के अनुसार 179 लोगों को अस्पताल से डिस्चार्ज भी किया जा चुका है। इस समय तक कोविड सेंटर में 231 लोगों का ईलाज कर चल रहा है, बाकि लोग होम आईसोलेशन पर हैं, यानि कि ये लोग अपना घर पर ईलाज करवा रहे हैं। बता दें कि कोविड-19 नियमों के अंतर्गत स्वास्थ्य विभाग द्वारा किसी भी पॉजीटिव की लोके शन व जानकारी देना प्रतिबंधित है और विभाग किसी भी केस की लोके शन उपलब्ध नहीं करवाता। इसलिए आपसे भी निवेदन है कि किसी भी पॉजीटिव केस के संदर्भ में जानकारी ना मांगें। बता दें कि अब यह संख्या तेजी से बढऩे लगी है। कहां तो पहले प्रत्येक दिन में एक या दो मरीज पॉजीटिव दिखाए जा रहे थे, लेकिन लॉकडाऊन में ढील के साथ ही कोरोना पॉजीटिव की संख्या भी बढऩे लगी है। जिले के प्रत्येक हिस्से से पॉजीटिव मरीज सामने आ रहे हैं। अब कोविड सेंटर में भर्ती मरीजों की संख्या देखने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने अब नया तरीका निकाला है। तमाम पॉजीटिव केसों की गहन जांच के बाद उनके लिए ईलाज को लेकर अलग अलग श्रेणी निर्धारित कर दी हंैं। जिन लोगों में कोरोना के कम लक्षण होंगे, उन्हें होम आईसोलेनश की सलाह दी जा रही है। अगर कोई घर पर ना रहे तो उनके लिए होटल में रहने की व्यवस्था पर भी जोर दिया जा रहा है, जिसका सारा खर्चा मरीज को वहन करना होगा। जबकि गंभीर मरीजों को ही कोविड सेंटर में भर्ती किया जा रहा है। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages